Jokes on WhatsApp Admin

Admin जलेबी बेच रहा था..
लेकिन बोल रहा था ‘आलू ले लो आलू….!’

संता: पर यह तो जलेबी है.

Admin: चुप हो जा, वर्ना मक्खियां आ जाएंगी.

Very intelligent u know..

————————–

admin ke liye jackpot..

एडमिन टॉयलेट में बैठा था,
सामने लिखा था। ‘कृपया पानी का ज्यादा से ज्यादा इस्तमाल करे’

एडमिन बैठे बैठे चार डब्बे पानी पी गया

————————–

आज हमारे एडमिन ने फिर कमाल कर दिखाया ।

वह बैंक में जा कर सो गये,
क्योंकि वहाँ लिखा था कि..

यहाँ सोने पर लोन दिया जाता है ।

हंस क्या रहे हो।
दुसरे एडमिन को सेंड कर, उसका भी मन हो रहा होगा मजा लेने को।।

sorry admin 😛

Yeh 3 cheezein – Jethalal Joke

इस देश में तीन चीज़ें शायद कभी देखने को नहीं मिलेंगीं…

1. काला धन

और

2. जेठालाल की सास

और

३. पोपटलाल की बीवी ।

Biwi naam ka ajeeb prani

दोस्तों आज हम एक अजीब प्राणी
के बारे में पढेंगे – इस जीव का नाम हे.

“बीवी”

यह अक्सर रसोई और टीवी क सामने पाई जाती है.

इनका पौष्टिक आहार हे पति का भेजा.

ये पानी कम खून ज्यादा पीती है …

इन्हें अक्सर नाराज़ होने का नाटक करते हुए देखा जाता है.

इस प्राणी का सबसे खतरनाक हथियार हे रोना और इमोशनली ब्लैकमेल करना.

उसके संपर्क में रहने से टेंशन नाम की बीमारी हो सकती हे,
जिसका कोई इलाज़ नहीं.

.

बस इनसे सावधान रहना
“भारत सरकार द्वारा जनहित में जारी”

Naye naye Pati Patni

नयी नयी शादी हुई …
पति सुबह अपनी पत्नी पे पानी डाल देता है …

पत्नी : – (नींद में से उठती हुई गुस्से में) … पानी क्यों डाला..?

पति : – तेरे बाप ने बोला था, की दामादजी मेरी बेटी फूल की कली है,
उसे मुरझाने मत देना,
इसीलिए| ..

Sasural mein Jamaai – Pehle aur Ab

जमाई के साथ (ससुराल में)
2000 से पहले और उसके बाद किये जाने वाले व्यवहार के बारे में :-

1. पहले के जमाई के जब आने का पता चलता तो ससुर जी दाढ़ी बनाकर और नए कपङे पहनकर स्वागत के लिए कम्पलीट रहते थे ।

2. जमाई आ जाते तो बहुत मान मनवार मिलती और छोरी दौड़कर रसोई में घुस जाती थी ।सासुजी पानी पिलातीं और धीरे से कहती :-“आग्या कांई ?”

3. आने का समाचार मिलते ही गली मोहल्ले के लोग चाय के लिए बुलाते थे,
और काकी सासुजी या भाभियां तो आटे का हलवा भी बनाती थी ।

4. जमाई खुद को ऐसा महसूस करता था कि वो पूरे गांव का जमाई है ।

5. जमाई के घर में आने के बाद घर के सब लोग डिसिप्लिन में आ जाते थे ।

6. जमाई बाथरूम से निकलते तो उनके हाथ सन्तूर साबुन से धुलवाते, भले खुद उजाला साबुन से नहाते थे ।

7. जमाई अगर रात में रुक जाते तो सुबह उनका साला पेस्ट और ब्रश हाथ में लेकर आस पास घूमता रहता था ।

8. जब जमाई का अपनी बीवी को लेकर जाने का समय हो जाता तो वो स्कूटर को पहले गैर में डालकर भन्ना भोट निकालते थे, जिससे उनका ससुराल में प्रभाव बना रहता था ।

.

अब आज के जमाई की दुर्दशा :-

.

1. आज के जमाई से कोई भी लुगाई लाज नहीं करती है, खुद की बीवी भी सलवार कुर्ते में आस पास घूमती रहती है ।
काकी सासुजी और भाभी कोई दूसरी रिश्तेदारी निकाल कर बोलती हैं :- ” अपने तो जमाई वाला रिश्ता है ही नहीं ।”

2. साला अगर कुंवारा है और अगर उसकी सगाई नहीं हो पा रही है तो इसका ताना जमाई को सुनाया जाएगा :- “तुम्हारा हो गया इसका भी तो कुछ सेट करो ।”

3. पानी पीना हो तो खुद रसोई में जाना पड़ेगा, कोई लाकर देने वाला नहीं है ।

4. ससुराल पक्ष की किसी शादी में जमाई को इसीलिए ज्यादा मनवार करके बुलाया जाता है ताकि जमाई बच्चों को संभाल सके, बीवी और सासुजी आराम से महिला संगीत में डांस कर सके ।

5. जरा सा अगर बीवी को ससुराल में कुछ कह दिया तो सासुजी की तरफ से तुरंत जवाब आता हैं ” एक से एक रिश्ते आऐ थे, पर ये ही मिला था छोरी को दुखी करने के लिए, इसके पापा को …नाशपिटा ।”